Get Upto 20% Instant discount Using
credit card / debit card / net banking

Diabetes

डायबिटीज़ के मरीज़ है तो करें इस खाद्य पदार्थ का सेवन मिलेगा जबरदस्त फायदा !

Posted on 22nd December 2020 | By AR Ayurveda


डायबिटीज एक ऐसी गंभीर बीमारी है, जो यदि एक बार किसी को हो जाये तो जल्दी ठीक नहीं होती है। और उसकी पूरी जिंदगी फीके और स्वादहीन भोजन करने में निकल जाती है। इस बीमारी में डॉक्टर्स बहुत सारी ऐसी चीजों का परहेज बता देते है। जिससे इंसान के जीवन का पूरा स्वाद ही गायब हो जाता है। पर आज हम बात करेंगे एक ऐसे खाद्य पदार्थ के बारे में जिसे अपने डाइट में शामिल करके अपने भोजन का जायका भी बढ़ा सकते है। और डायबिटीज़ को भी नियंत्रित कर सकते है। 

सोयाबीन प्रोटीन का मुख्य स्त्रोत माना जाता है। इसमें तकरीबन 36-40 प्रतिशत प्रोटीन होता है। इसके लिए सोयाबीन को सुपरफूड कहा जाता है। चिकित्सक बीमार व्यक्ति को सोयाबीन खाने का परामर्श देते हैं। इसमें प्रोटीन, एमिनो एसिड के अलावा विटामिंस और मिनरल्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। साथ ही विटामिन बी कॉम्प्लेक्स और विटामिन ई की अधिकता होती है। इसके अतिरिक्त सोयाबीन में आइसोफ्लेवॉन्स नामक गुणकारी तत्व पाया जाता है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत ही लाभकारी माना जाता है। इसके बारे में किये गए बहुत सारे शोध के मुताबिक सोयाबीन डायबिटीज के मरीज के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए डायबिटीज से ग्रस्त लोग को अपने डाइट प्लान में सोयाबीन को शामिल करना लाभकारी माना जाता है। आइये विस्तार से जानते है सोयाबीन के गुण तथा फ़ायदे। 

एक अध्ययन के अनुसार, डायबिटीज दो प्रकार के होते हैं। पहले में अग्नाशय से इंसुलिन हार्मोन निकलता है, लेकिन दूसरे टाइप के डायबिटीज में अग्नाशय से इंसुलिन निकलना पूरी तरह से बंद हो जाता है। साथ ही ब्लड में ग्लूकोज़ का स्तर बहुत बढ़ जाता है। इसलिए दूसरे टाइप का डायबिटीज़ ज्यादा खतरनाक माना जाता है। यह एक लाइलाज बीमारी है जो जीवनभर साथ रहती है, इसका रोकथाम केवल परहेज द्वारा ही संभव है। इसके लिए डाइट में सोयाबीन जरूर शामिल करें।  

द अमेरिकन डायबिटीज़ असोसिएशन की शोध के अनुसार सोयाबीन में एमिनो एसिड की भरपूर मात्रा होती है। तथा सोया प्रोटीन में ग्लाइसिन और अर्गिनीन पाए जाते हैं। ये रक्त से ग्लूकोज़ कम करने का काम करते है और ब्लड शुगर कंट्रोल करने में सहायक होते हैं।

सेवन करने का तरीका 

  • सोयाबीन का सेवन हम कई प्रकार से कर सकते है। जिसमे सब्जी बनाकर सेवन करना सबसे अच्छा होता है इससे मधुमेह रोगी को भोजन में स्वाद की अनुभूति होती है। 
  • सोयाबीन को फ्राई करके स्नैक्स के रूप में भी सेवन कर सकते है। 
  • सोयाबीन पाउडर की टिक्की बनाकर भी इसका सेवन करना फायदेमंद माना जाता है। 
  • कई लोग सूखे सोयाबीन को चबाकर की खा लेते है पर सोयाबीन के सेवन के लिए ऊपर के निम्न तरीके उत्तम माने जाते है। 
 

तो दोस्तो, हमारा ये आर्टिकल आपको कैसा लगा? अगर अच्छा लगा, तो इसे अन्य लोगों के साथ भी ज़रूर शेयर करें। न जाने कौन-सी जानकारी किस ज़रूरतमंद के काम आ जाए। साथ ही, अगर आप किसी ख़ास विषय या परेशानी पर आर्टिकल चाहते हैं, तो कमेंट बॉक्स में हमें ज़रूर बताएं। हम यथाशीघ्र आपके लिए उस विषय पर आर्टिकल लेकर आएंगे, धन्यवाद!!

(DISCLAIMER: This Site Is Not Intended To Provide Diagnosis, Treatment Or Medical Advice. Products, Services, Information And Other Content Provided On This Site, Including Information That May Be Provided On This Site Directly Or By Linking To Third-Party Websites Are Provided For Informational Purposes Only. Please Consult With A Physician Or Other Healthcare Professional Regarding Any Medical Or Health Related Diagnosis Or Treatment Options. The Results From The Products May Vary From Person To Person. Images shown here are for representation only, actual product may differ.)


No Comments yet

Related Product

25 % OFF Ayurvedic Blood Sugar Controller